करियर फूलों-फलों के बीच

उद्यान विज्ञान करियर की दृष्टि से काफी संभावनाओं भरा क्षेत्र है। सरकारी एवं गैर-सरकारी दोनों ही क्षेत्रों में नौकरी के पर्याप्त अवसर तो हैं ही, इसे स्वरोजगार के रूप में अपनाकर भी अच्छी कमाई की जा सकती है। आज इसमें करियर के अनेक विकल्प हैं, जिनमें उद्यान क्षेत्र प्रमुखता से उभरकर सामने आया है। इसमें कई प्रकार के कार्य किए जा सकते हैं।

सरकारी क्षेत्र

वैज्ञानिक : उद्यान वैज्ञानिक पद के लिए आई.सी.ए.आर. प्रतियोगिता परीक्षा आयोजित करता है। शिक्षक (उद्यान) : कृषि विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में प्रवक्ता, रीडर, सहायक प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर आदि पदों पर आवेदन कर सकते हैं।
सिविल सेवा : संघ तथा राज्य लोक सेवा आयोगों द्वारा कृषि स्नातकों के लिए समय-समय पर उद्यान अधिकारी/जिला कृषि अधिकारी के लिए आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं।

निजी क्षेत्र :
प्रसंस्करण कंपनियों,फॉर्म हाउस, होटल, गोल्फ कोर्स और बिल्डर्स फर्मो में उद्यान अधिकारी के अतिरिक्त  ऑफिसर आदि पदों के लिए आवेदन किया जा सकता है।

स्वरोजगार
उद्यान सलाहकार के रूप में कार्य कर सकते हैं, जिसके अंतर्गत उद्यान विकास, डिजाइन, मूल्यांकन तथा उद्यान की देखरेख के विषय में सलाह दी जाती है। इसके अतिरिक्त एग्री-क्लीनिक शुरू कर सकते हैं।

नर्सरी कार्य : फल-फूल एवं अलंकृत पौधों की नर्सरी शुरू कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त फ्लोरिस्ट,  औद्योगिक फसल उत्पादन, मशरूम उत्पादन आदि कार्य कर सकते हैं।

कोल्ड स्टोरेज : आप अपना कोल्ड स्टोरेज बना सकते हैं, जिसमें विभिन्न उत्पादों के लिए किराए पर स्पेस दे सकते हैं।
उद्यान उत्पादन का प्रसंस्करण कार्य शुरू किया जा सकता है। उद्यान के विभिन्न विषयों का प्रशिक्षण देने के लिए वोकेशनल संस्था भी स्थापित की जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *